भाजपा ने किया बस्तर और आदिवासियों का अपमान : अमरजीत चावला

रायपुर/महासमुन्द। भाजपा प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास के द्वारा सोशल मीडिया में आदिवासी मंत्री कवासी लखमा के छायाचित्र को एडिट कर शेयर कर अपमान करने की प्रदेश कांग्रेस सचिव अमरजीत चावला ने कड़ी निंदा की। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अमरजीत सिंह चावला ने कहा की सहज सरल सौम्य लोकप्रिय वरिष्ठ आदिवासी नेता और महासमुन्द जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा जी का अपमान भाजपा केे नेता सड़क से लेकर सदन तक लगातार करते आ रहे हैं और उनका उपहास उड़ाने का प्रयाश करते रहते हैं।उसी कड़ी में  भाजपा प्रवक्ता ने फोटोशाप का इस्तेमाल कर लोकप्रिय आदिवासी नेता की छवि धूमिल करने का प्रयाश किया है जो कि सिर्फ नेता का ही नही वरण पूरे आदिवासी समाज और सम्पूर्ण बस्तर का भी अपमान है। भाजपा प्रवक्ता ने फोटोशाप के जरिये आदिवासियों की छवि को शराब पीने वाला बनाने की साजिश की ही है साथ ही हिन्दु धर्म के रीति रिवाजो का भी अपमान किया है। सोशल मीडिया में डाली पोस्ट के जरिये भाजपा का आदिवासी विरोधी चरित्र  बेनकाब हुवा है। भाजपा प्रवक्ता ने फोटोशाप का दुरूपयोग कर आदिवासी नेता की छवि धूमिल करने की साजिश कर भाजपा ने खुद अपनी जड़ खोदने का काम किया है जिसका अंत बस्तर से भाजपा की समाप्ति के साथ होगी। प्रदेश कांग्रेस सचिव अमरजीत सिंह चावला ने कहा है कि आरएसएस और भाजपा का वास्तविक चरित्र यही है जो सोशल मीडिया में हमेशा दिखता है जब आरएसएस और भाजपा से जुड़े लोग राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से लेकर देश के पूर्व प्रधानमंत्रियों सहित कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के फोटोशाप के जरिये अपमानित एवं उनका चरित्र हनन करते है। छत्तीसगढ़ भाजपा के प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास ने सहज सरल भोले भाले लोकप्रिय वरिष्ठ आदिवासी नेता एवं छत्तीसगढ़ शासन के मंत्री कवासी लखमा के छायाचित्र को एडिट कर करवाचैथ के पुण्य पर्व पर सोशल मीडिया में शेयर कर कवासी लखमा जी का अपमान तो किया ही है साथ ही पति की दीर्घायु एवं उन्नति के लिये करवाचैथ का व्रत रखने वाले बहनों का भी उपहास उड़ाया है। पूर्व जिलाध्यक्ष अमरजीत चावला ने जारी बयान में कहा कि राजनीति में विरोध लोकतंत्र का दिया हुआ अधिकार है लेकिन भाजपा ने लोकतंत्र के अधिकार का हनन करते हुए अपने कुटिल ओछी घृणित सोच को प्रचारित प्रसारित करने के लिए लोकतंत्र के मर्यादाओं को भी तार-तार किया है। भाजपा प्रवक्ता ने वही किया है जो भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें सिखाया पढ़ाया है। भाजपा प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास के द्वारा की गई हरकत के लिए छत्तीसगढ़ भाजपा जिम्मेदार है। भाजपा को इस ओछी हरकत के लिए करवाचैथ का व्रत रखने वाले बहनों से माफी मांगना चाहिए एवं आदिवासी समाज से भी माफी मांगना चाहिए आदिवासी समाज के वरिष्ठ नेता कवासी लखमा जी का जो अपमान हुआ है उसका बदला आदिवासी समाज चित्रकूट के उपचुनाव में लेगा भाजपा को उनकी करतूतों की सजा मिलेगी। बस्तर भाजपा मुक्त होगा

Tags

latest news top 10 news

Related Articles

81989.jpg

More News

81989.jpg